प्रेग्नन्सी में क्या खाना चाहिए: 10 essential healthy snacks for pregnant women ,full list is here

pregnancy me kya khana chahiye

(गर्भवती होना यानि माँ बनाना ,एक ऐसा पड़ाव जिसका इंतज़ार हर औरत करती है। गर्भावस्था के दौरान इस बात पर विशेष ध्यान दिया जाता है कि होने वाली माँ स्वस्थ एवं पोषण युक्त आहार का ही सेवन करे ताकि बच हष्ट-पुष्ट पैदा हो । लेकिन इस दौरान कई लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होती कि उन्हें  गर्भावस्था में क्या कहना चाहिए और क्या नहीं,इसलिए आज हम आपको बताएंगे की आपको प्रेग्नन्सी में क्या कहना चाहिए और क्या नही, तो आइए जानते हैं विस्तार से)

गर्भवती होना एक बहुत ही सुंदर एहसास है और हर औरत के लिए ये सफर बहुत ही महत्वपूर्ण साथ ही  सावधानी बरतने का होता है। क्यूंकि इस वक्त आपकी हर एक प्रक्रिया आपके होने वाले बच्चे को प्रभावित करती है । इस दौरान ये बहुत ज़रूरी है कि आप अपना विशेष ध्यान रखें। आप क्या खाती हैं , क्या करती है इन सबका प्रभाव आने वाले बच्चे पर बेहद पड़ता है। इसलिए इस दौरान हर गर्भवती महिला को ये सलाह दी जाती है कि वो पोषण युक्त आहार खाए ,व्यायाम करे और शरीर को सचेत रखे जिससे होने वाला स्वस्थ पैदा हो। गर्भवस्था के दौरान कई महिलाओं को कुछ समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है , कई महिलाओं की प्रेग्नन्सी में कुछ बाधाएँ भी आती हैं। इसलिए इस बात से जागरूक होना बेहद ज़रूरी है कि आप किन - किन पदार्थों का सेवन कर सकते हैं और किसके सेवन से आपको दूरी बनानी है । तो चलिए आज हम आपको बताएंगे कि जच्चा और बच्चा दोनों को स्वस्थ रखने के लिए क्या खाएँ और क्या नहीं। 

अगर आप इस खूबसूरत सफर को तय करने ज रही हैं तो आपको इन पदार्थों का सेवन जरूर करना चाहिए:

गर्भावस्था में खाने जाए वाले 10 पौष्टिक स्नैक्स-

  • स्पराउट्स 

  • स्प्राउट्स एक बहुत ही स्वादिष्ट और पोषक तत्वों से भरपूर नाश्ता है। इसके साथ ही, ये फाइबर और आयरन का भी अच्छा स्रोत माना जाता है। कच्चे स्प्राउट्स को आप सलाद या रायते में डालकर इसका सेवन कर सकते हैं। या इसे सूप या परांठे में भी मिलाकर खा सकते हैं। ये गर्भावस्था के दौरान खाए जाने वाले पसंदीदा स्नैक्स में से एक हैं।

  • ढोकला 

  • गर्भावस्था के दौरान आप ढोकले का भी सेवन कर सकते हैं। ढोकला एक स्वादिष्ट स्नैक का विकल्प होता है । क्योंकि इनमें कैलोरी कम होती है और स्वाद भी अधिक होता है। इसमें मौजूद प्रोबायोटिक्स, जो पाचन में हमारी सहायता करते हैं, आमतौर पर चुनिंदा खाद्य पदार्थों में उच्च मात्रा में मौजूद होते हैं। इसके अतिरिक्त पोषण के लिए, आप उबली हुई सब्जियाँ जैसे गाजर गाजर, मक्का (मक्कई), और बीन्स भी इसमें मिला सकते हैं।

  • ग्रीन स्मूथीज़  (हरी स्मूथीज़)

  • गर्भावस्था की तीसरे महीने में क्रैविंग के लिए सबसे अच्छे, स्वस्थ और स्वादिष्ट पेय पदार्थों में से एक है हरी स्मूदी। स्वादिष्ट एवं पोषण से भरी हरी स्मूदी तैयार करने के लिए स्वस्थ पालक और बर्फ को मिलाएं। इसका स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसमें जामुन, आम, पुदीना या अदरक भी मिला सकते हैं।  यह फाइबर, कैल्शियम, विटामिन बी 6, मैग्नीशियम और पोटेशियम का एक सबसे बड़ा स्रोत है। यह पदार्थ  गर्भावस्था के लिए सर्वोत्तम उच्च प्रोटीन स्नैक्स में से एक है।

    • नट्स और सीड्स 

    गर्भावस्था में तीसरे महीने के दौरान, आपको अपनी नियमित प्रोटीन और कैलोरी की आवश्यकताओं के अलावा प्रतिदिन 450 अतिरिक्त कैलोरी की आवश्यकता भी होती है। तीसरी महीने में अपनी भूख को संतुष्ट करने के लिए आपको अपने आहार में बीज और नट्स को शामिल अवश्य करना चाहिए। बीज और मेवे थायमिन, आवश्यक ओमेगा-3 ,फैटी एसिड और प्रोटीन से युक्त होते हैं। आखिरी महीने के लिए अपने गर्भावस्था आहार में सूरजमुखी के बीज, हेज़लनट्स, बादाम और अखरोट शामिल ज़रूर करें। वे देर रात में गर्भावस्था के दौरान होने वाली क्रैविंगस के लिए सर्वोत्तम स्नैक्स में से एक हैं।

    कुईनवा के अंदर आयरन मौजूद होता है , जो अधिक दैनिक मूल्य का 15% पूरा करने के लिए एकदम सही विकल्प है। क्विनोआ दलिया इंस्टेंट मिक्स होता है , इसे अपने आहार में शामिल करना एक बेहतरीन विकल्प होता है। क्विनोआ दलिया को एक गर्भावस्था का आहार कहा जाता है जो अमीनो एसिड, आहार फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट, मैग्नीशियम और आयरन का एक बड़ा स्रोत है। इसके अतिरिक्त, क्विनोआ दलिया स्वस्थ, कम कैलोरी वाला और ग्लूटेन-मुक्त पदार्थ है, इसलिए आप इसे आसानी से अपने गर्भावस्था के आहार में शामिल कर सकते हैं।

  • शकरकंद

  • आपको शायद पता नहीं होगा कि शकरकंद विटामिन ए से भरपूर पदार्थ है। जी हाँ, शकरकंद विटामिन ए की अनुशंसित (जितनी मात्रा चाहिए ) दैनिक आवश्यकता का 368% प्रदान करता है। आप शकरकंद को गोल टुकड़ों में काट कर खा सकते हैं। इसके लिए आप इन्हें भून लें और फिर उनके ऊपर मसाला डालकर इसे स्नैक्स बनाकर खाएँ जो नमकीन और मीठे दोनों की क्रैविंग और भूक दोनों पूरी करेगा।

  • ब्रोकोली सैंडविच

  • क्या आप जानते हैं कि ब्रोकोली में विटामिन सी की अनुशंसित दैनिक आवश्यकता का 220% होता है? जी हाँ , आपके गर्भावस्था के आहार में ब्रोकोली को शामिल करना सबसे अच्छा तरीका है। यह नाश्ते का एक उत्कृष्ट विकल्प होता है और गर्भवती महिलाओं के लिए सबसे स्वस्थ और पोषण युक्त स्नैक्स में से एक है क्योंकि यह विटामिन सी का सेवन बढ़ाता है। इसके अलावा, अगर आपको पिज़्ज़ा का सेवन पसंद है, तो ब्रोकली डालकर घर पर ही इसे प्रयोग करके बनाएं।

  • उबले अंडे

  • क्या आपको पता है कि गर्भावस्था में अंडे आपके लिए जरूरी नहीं बल्कि बच्चे के मस्तिष्क के विकास के लिए भी जरूरी हैं। शाम को जब भी भूख लगे तो उबले अंडे का सेवन अवश्य करें। इसका सेवन गर्भवती महिलाओं के लिए सर्वोत्तम नाश्ता हैं। अगर आप अंडे के सेवन से दूरी बनाकर रखते हैं या अंडा नहीं खाते हैं तो आप इसका सेवन न करें , इसके अलावा भी कई पदार्थ हैं जिनका आप सेवन कर सकते हैं। 

  • इडली

  • इडली पहले के तीन महीने में मां बनने वाली महिलाओं के बीच सबसे लोकप्रिय गर्भावस्था स्नैक्स में से एक माना जाता है। अपनी इडली में पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ाने के लिए बैटर में बारीक कद्दूकस की हुई गाजर, बीन्स, करी पत्ता, हरा धनिया, हरा धनिया और पत्तागोभी मिलाएं। आयरन को बढ़ाने के लिए अपनी इडली को नारियल की चटनी (नारियाल), धनिया और पुदीने की चटनी (हरा धनिया), या दाल-युक्त सांभर के साथ खाएँ। इससे आपको स्वाद  और पोषण दोनों मिलेगा। 

  • पॉपकॉर्न का सेवन 

  • यदि आपको पॉपकॉर्न पसंद  हैं, तो आपक लिए खुशखबरी है कि आप - आप गर्भावस्था के दौरान भी इन्हें खाना जारी रख सकती हैं। दरसल पॉपकॉर्न में फाइबर की मात्रा अधिक होती है। अपनी गर्भावस्था के दौरान , एयर-पॉप्ड पॉपकॉर्न के ऊपर अपने पसंदीदा मसाले डालें और इसका सेवन करें।

  • पालक 

  • हरी सब्जियों में सभी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। गर्भावस्था के दौरान पालक का सेवन बहुत लाभदायक होता है। पालक में प्रोटीन, फाइबर, विटामिन और कई सारे मिनरल्स होते हैं। ये बच्चे के विकास और बेहतर स्वास्थ्य के लिए बेहद आवश्यक है। गर्भवती महिला को पालक का सेवन अवश्य करना चाहिए। इससे अजन्मे बच्चे को बेहतर सेहत और तेज दिमाग मिलता है।

  • बादाम 

  • बादाम में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व होते है। बादाम खाने से दिमाग भी तेज होता है। और यह बात गर्भवती महिला और उनके बच्चे पर भी लागू होती है। बादाम में कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। गर्भावस्था में महिला को बादाम का सेवन करना चाहिए। इससे बच्चे का दिमागी विकास और बेहतर होता है।

    • दूध 

    बच्चे हों या बड़े, सभी को दूध के सेवन की सलाह दी जाती है। एक गिलास दूध में विभिन्न प्रकार के भरपूर पोषक तत्व होते हैं। गर्भवती महिला और उसके बच्चे के लिए भी दूध का सेवन बेहद फायदेमंद होता है। इससे शरीर को ताकत मिलती है। सेहत बनती है और बच्चे के दिमाग का भी विकास होता है।

    निष्कर्ष: (Conclusion)

    गर्भवती महिलाओं के लिए ये बहुत महत्वपूर्ण है कि वो किन खाद्य पदार्थों का सेवन करती हैं। क्यूंकि इसका सीधा असर आपके होने वाले बच्चे पर पड़ता है। इसलिए कहा जाता है की पोषण युक्त आहार और स्वस्थ पदार्थों का ही सेवन करें। गर्भावस्था के दौरान कई बार क्रैविंग भी होती है जब आपको अलग अलग पदार्थ खाने की इच्छा उठती है ऐसे में भी आपको उन्हीं आहार का सेवन करना है जिनसे आपके शरीर की क्रैविंग भी शांत हो जाए और ये आपको लाभ भी प्रदान करे। अगर आप गर्भावस्था के दौरान खाने वाले पदार्थों की तलाश कर रहें हैं या फिर अपनी क्रैविंग को शांत करने के विकल्प ढूंढ रहें हैं तो हम आपकी इस तलाश का समाधान भी है हमारे पास। हम आपको सलाह देंगे कि आप गर्भावस्था के दौरान Healthy Master के पदार्थों का सेवन करें। इनके पास खासतौर पर गर्भवती महिलाओं के लिए ऐसे खाद्य पदार्थ उपलब्ध हैं जो आपको न सिर्फ पोषक तत्व प्रदान करेंगे बल्कि ये आपकी क्रैविंग को भी संतुष्ट करेंगे। इनके खाद्य पदार्थ को बनाते व्यक्त इस बात का विशेष ध्यान रखा गया है कि ये गर्भवती महिलाओं के लिए भरपूर पोषण प्रदान करे और उन्हे शारीरिक एवं मानसिक रूप से भी स्वस्थ रखे।